Monday , 6 July 2020

payment symtem bhim app data hacking do not believe on hackers says npci | apps – News in Hindi

Bhim App

एनपीसीआई ने कहा, ‘हम ये स्पष्ट करना चाहते हैं कि भीम ऐप के डेटा के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है….

मुंबई. भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने इस दावे को खारिज किया है कि भीम ऐप (BHIM App) में सेंधमारी करने के रास्ते का पता लगाया है. इस मोबाइल भुगतान ऐप में सेंधमारी का दावा नेक उद्देश्य से हैकिंग करने वाले हैकरों (hackers) के एक समूह ने सोमवार को किया. भीम ऐप का इस्तेमाल लोग मोबाइल से छोटे-मोटे लेनदेन के लिए करते हैं. इसे एनपीसीआई ने नवंबर 2016 में नोटबंदी के बाद पेश किया था. इसके माध्यम से भुगतान करने वालों की संख्या करोड़ों में है.

वीपीएनमेंटर नाम की वेबसाइट ने दावा किया कि उसने इस डिजिटल ऐप में कथित ‘डेटा सेंधमारी’ का पता लगाया है. वीपीएनमेंटर का दावा है कि वह ‘वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क’ (वीपीएन) की समीक्षा करने वाली सबसे बड़ी वेबसाइट है. ये समूह लोगों को साइबर हमलों से रक्षा करने में लोगों की ऑनलाइन मदद करता है.

वीपीएनमेंटर का दावा है, ‘भीम ऐप के डेवेलपर अगर कुछ सामान्य डेटा सुरक्षा नियमों का पालन करते तो यूज़र्स के डेटा में सेंधमारी को दर किनार किया जा सकता था.’ वेबसाइट का दावा है कि भीम ऐप से जुड़े बहुत सारा संवेदनशील वित्तीय डेटा सार्वजनिक किया जा सकता है. हालांकि एनपीसीआई ने एक बयान में कहा, ‘हम ये स्पष्ट करना चाहते हैं कि भीम ऐप के डेटा के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है. सभी लोगों से अनुरोध है कि वह इस तरह की किसी सूचना के बहकावे में न आएं.’

(ये भी पढ़ें- सीक्रेट ट्रिक: बिना WhatsApp खोले चुपके से पढ़े किसी का भी मैसेज, नहीं होगा Blue Tick)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: June 2, 2020, 3:57 PM IST



Source link

Check Also

Motorola One Fusion+ की दूसरी सेल आज Flipkart पर, जानें कीमत

Motorola One Fusion+ स्मार्टफोन की सेल आज दूसरी बार भारत में आयोजित की जा रही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *