Monday , 6 July 2020

अगर 30 मई तक नहीं किया Zoom ऐप अपडेट, तो यूजर्स को झेलनी पड़ेगी ये दिक्कत – Zoom urges users to update app before May 30 as Govt ban over privacy concerns safe voice calling | tech – News in Hindi

अगर 30 मई तक नहीं किया Zoom ऐप अपडेट, तो 30 करोड़ यूजर्स को झेलनी पड़ेगी ये दिक्कत

कोरोना वायरस की वजह से आजकल सभी जगह वर्क फ्रॉम होम कराया जा रहा है. अगर आप घर से काम कर रहे हैं और मीटिंग के लिए ज़ूम ऐप यूज करते हैं तो ये खबर आपके लिए है.

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की वजह से आजकल सभी जगह वर्क फ्रॉम होम कराया जा रहा है. अगर आप घर से काम कर रहे हैं और मीटिंग के लिए ज़ूम ऐप यूज करते हैं तो ये खबर आपके लिए है. Video मीट ऐप Zoom पर 30 मई के बाद उसके सभी यूजर्स को मीटिंग में शामिल होने के लिए अपने आप 5.0 नया अपडेट मिलेगा, जो GMC एन्क्रिप्शन प्लेटफॉर्म पर पूरी तरह सक्षम होगा. सिक्योरिटी और प्राइवेसी को लेकर लगातार उठ रहे सवालों के बाद Zoom ने पिछले महीने बेहतर सिक्योरिटी फीचर के साथ इस ऐप का नया अपडेट Zoom 5.0 लॉन्च किया था. यूजर को यह ऐप अपडेट करना ही होगा.

Zoom 5.0 पर अपडेट करें
कंपनी ने बयान में कहा कि कृपया अपने सभी क्लाइंट्स को Zoom 5.0 पर अपडेट करें. 30 मई के बाद पुराने वर्जन्स पर सभी Zoom क्लाइंट्स मीटिंग में शामिल होने का प्रयास करेंगे जो उन्हें अपडेट होना ही होगा, क्योंकि यह जीएमसी एन्क्रिप्शन जूम प्लेटफॉर्म पर पूरी तरह से सुरक्षित होगा.

ये भी पढ़ें:- 1 जून से बदल रहे हैं रेलवे-राशन कार्ड के कई नियम, जानिए आप पर क्या होगा असरवीडियो कॉन्फ्रेंसिंग और वीडियो कॉलिंग की डिमांड बढ़ने से बढ़ी मांग

लॉकडाउन के बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग और वीडियो कॉलिंग की डिमांड बढ़ने की वजह से Zoom की लोकप्रियता में वृद्धि हुई थी. इसका यूजर बेस तो बढ़ा लेकिन प्राइवेसी और सिक्योरिटी को लेकर समस्या आने लगी. इसकी वजह से भारत सरकार ने भी इसका उपयोग नहीं करने की सलाह दी थी जिसके बाद Zoom ने अपनी सर्विस में सुधार किया और 5.0 अपडेट के जरिए सामने आया.

30 करोड़ यूजर्स के लिए सुविधाओं को बेहतर किया
Zoom ने अपने 30 करोड़ यूजर्स के लिए सुविधाओं को बेहतर किया है. इसके जरिए ऐप में इंटरफेस और डिजाइन में भी बदलाव लाया गया है. इस ऐप में सिक्योरिटी फीचर को एक्सेस करने के लिए एक सिक्योरिटी आइकन दिया गया है. इसके अलावा पासवर्ड प्रोटेक्शन और अनआथोराइज्ड एक्सेस की पहचान के लिए कंट्रोल दिए गए हैं. नए UI अपडेट की वजह से होस्ट अब मीटिंग को समाप्त करने या बीच में छोड़ने का फैसला साफ तौर पर कर सकते हैं. जूम क्लाइंट आपके जूम विंडो के उपरी बाएं कोने में आइकन में यह भी दिखाता है कि यूजर किस डेटा केंद्र से जुड़ा है.

ये भी पढ़ें:- राहत: सरकार ने इस स्कीम में किया बदलाव, मिलता है एफडी से ज्यादा मुनाफा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First published: May 28, 2020, 6:40 PM IST



Source link

Check Also

Motorola One Fusion+ की दूसरी सेल आज Flipkart पर, जानें कीमत

Motorola One Fusion+ स्मार्टफोन की सेल आज दूसरी बार भारत में आयोजित की जा रही …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *